पत्र व्यवहार का पता

अभिव्यक्ति तुक-कोश

१. ५. २०१९

अंजुमन उपहार काव्य संगम गीत गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे पुराने अंक संकलन अभिव्यक्ति
कुण्डलिया हाइकु अभिव्यक्ति हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर नवगीत की पाठशाला रचनाकारों से

सड़क किनारे शीशम

 

 

धीरे-धीरे सड़क किनारे
बड़ा हुआ शीशम
अपने ही बलबूते पर तो
खड़ा हुआ शीशम

आश्रय दिया सदा पंछी को
राहगीर को छाया
दिन भर जितना तपा धूप में
उतना ही हरियाया
सूरज उगले आग, सामने
अड़ा हुआ शीशम

कमरों में उसकी लाशों पर
कितनी हुईं सभाएँ
सबने कहा जरूरी है यह
आओ इसे बचाएँ
सुनता रहा मनोरम बातें
पड़ा हुआ शीशम

चली कुल्हाड़ी, आरी, रंदा
ठोकी कील गई
भटका था दर-दर लेकिन, कब
सुनी अपील गई
दरवाजे पर पत्थर के संग
जड़ा हुआ शीशम

उसकी हिम्मत बड़ी गज़ब की
लिया सभी से लोहा
भिन्न-भिन्न रूपों में ढलकर
सबका ही मन मोहा
देखा नहीं अभी तक मैंने
सड़ा हुआ शीशम

- बसंत कुमार शर्मा
इस माह
शीशम विशेषांक में

गीतों में-

bullet

अविनाश ब्यौहार

bullet

आभा सक्सेना दूनवी

bullet

उमाप्रसाद लोधी

bullet

ओमप्रकाश नौटियाल

bullet

कल्पना रामानी

bullet

गिरिमोहन गुरु

bullet

छाया सक्सेना प्रभु

bullet

पंकज परिमल

bullet

परशुराम शुक्ला डॉ.

bullet

बसंत कुमार शर्मा

bullet

भावना तिवारी

bullet

रमा प्रवीर वर्मा

bullet

विश्वंभर शुक्ल

bullet

शंभु शरण मंडल

bullet

शशि पाधा

bullet

शशि पुरवार

bullet

शिव जी श्रीवास्तव

bullet

शिवानंद सहयोगी

bullet

शीला पांडे

bullet

श्रीधर आचार्य़ शील

bullet

शैलेश गुप्त वीर

bullet

संजीव वर्मा सलिल

bullet

सुरेशचंद्र सर्वहारा

bullet

हरिहर झा

bullet

-

bullet

-

छंदमुक्त में-

bullet

डा. गंगाधर ढोके

bullet

प्रमोद

bullet

मंजुल भटनागर

bullet

मधु प्रधान

bullet

मुकेश कुमार तिवारी

bullet

सूर्यप्रकाश सूरज

छंद में-

bullet

ज्योतिर्मयी पंत

bullet

मंजु गुप्ता

bullet

शैलेन्द्र शर्मा

अंजुमन में-

bullet

परमजीत कौर रीत

bullet

सुरेन्द्रपाल वैद्य

अंजुमनउपहार काव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंकसंकलनहाइकु
अभिव्यक्तिहास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतरनवगीत की पाठशाला

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है।

Google
Loading
प्रकाशन : प्रवीण सक्सेना -- परियोजना निदेशन : अश्विन गांधी
संपादन¸ कलाशिल्प एवं परिवर्धन : पूर्णिमा वर्मन

सहयोग :
कल्पना रामानी