पत्र व्यवहार का पता

अभिव्यक्ति तुक-कोश 

१. ६. २०२४1

अंजुमन उपहार काव्य संगम गीत गौरव ग्राम गौरवग्रंथ दोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्ति
कुण्डलिया हाइकु अभिव्यक्ति हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर नवगीत की पाठशाला रचनाकारों से


शिकंजी पीकर आएँ

 

 

मौसम का आनंद उठाएँ
चलो शिकंजी पीकर आएँ
..
खट्टी मीठी इस दुनिया में
शुद्ध तरावट देने वाला
जीवन की आपाधापी में
मुस्कानों को सेने वाला
दूर नहीं बस सड़क पार है
ठंडा मीठा शरबत वाला
.
सुस्ती छोड़
दुकान तक जाएँ
इससे भी मित्रता बढ़ाएँ
चलो शिकंजी पीकर आएँ
..
धूप घनेरी घेर रही है
आँख दिखाती टेर रही है
इसे हराए हिम्मतवाला
मोटा गमछा, चश्मा काला
कार-वार की नहीं जरूरत
सड़क पार है शरबत वाला
...
लू-लंगर-
से मत घबराएँ
साथ बड़ी छतरी लेआएँ
चलो शिकंजी पीकर आएँ
..
- पूर्णिमा वर्मन

इस माह
(ठंडा शर्बत विशेषांक में)

गीतों में-

bullet

अलकेश त्यागी

bullet

अशोक अज्ञानी

bullet

अविनाश ब्यौहार

bullet

आकुल

bullet

उमा प्रसाद लोधी

bullet

ओमप्रकाश नौटियाल

bullet

गरिमा सक्सेना

bullet

जिज्ञासा सिंह

bullet

निशा कोठारी

bullet

पद्मा मिश्रा

bullet

पूर्णिमा वर्मन

bullet

भावना तिवारी

bullet

मनोज जैन मधुर

bullet

विश्वम्भर शुक्ल

bullet

शार्दूला नोगजा

bullet

शिवजी श्रीवास्तव

bullet

शैलेश गुप्त वीर

bullet

श्रीधर आचार्य शील

bullet

संजीव सलिल

bullet

सुरेन्द्र पाल वैद्य

bullet

सीमा अग्रवाल

bullet

सीमाहरि शर्मा

bullet

हरिहर झा

छोटे छंदों में-

bullet

अलका गुप्ता भारती

bullet

पारुल

bullet

भूपेन्द्र सिंह

bullet

मंजु गुप्ता

bullet

शशि पुरवार

bullet

सत्यशील राम त्रिपाठी

bullet

त्रिलोचना कौर तनु

अंजुमन में-

bullet

अमित खरे

bullet

परमजीत कौर रीत

bullet

रमा प्रवीर वर्मा

bullet

राम अवध विश्वकर्मा

bullet

विनीता तिवारी

छंदमुक्त में-

bullet

मंजुल भटनागर

bullet

मधु प्रधान

bullet

मधु संधु

bullet

सरस दरबारी

अंजुमनउपहार काव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंकसंकलनहाइकु
अभिव्यक्तिहास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतरनवगीत की पाठशाला

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इस में प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है।
Google
प्रकाशन : प्रवीण सक्सेना -- परियोजना निदेशन : अश्विन गांधी
संपादन¸ कलाशिल्प एवं परिवर्धन : पूर्णिमा वर्मन / गजल संपादक- भूपेन्द्र सिंह