अंजुमनउपहारकाव्य संगमगीतगौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहे पुराने अंक संकलनअभिव्यक्ति कुण्डलियाहाइकुहास्य व्यंग्यक्षणिकाएँदिशांतर

कृष्ण भारतीय

जन्म- १ फरवरी १९५२ को ग्राम व पोस्ट- भदासा, जिला कानपुन नगर में
शिक्षा- एम.ए., बी.एच.एम.एस., माध्यमिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश से ’साहित्य वाचस्पति‘ की उपाधि।

प्रकाशित काव्य-कृतियाँ
बाल साहित्य- रोचक बाल कविताएँ,
कविता संग्रह- वतन है तो हम हैं, कब तक यूँ ही, आह्वान।
नवगीत संग्रह- देह वंशी हुई
गजल संग्रह- खुशबू के पंख (ग़ज़ल-संग्रह) पुरस्कृत

इसके अतिरिक्त लघुकथा, हास्य व्यंग्य तथा कहानी की विधाओं में भी सक्रिय। आकाशवाणी, दूरदर्शन तथा मंचों से काव्य-पाठ।

 

अनुभूति में कृष्ण भारतीय की
रचनाएँ-

गीतों में-
बूढ़ा बरगद इतिहास समेटे बैठा है
मर जाने का दिल करता है
रामरती ने हाट लगायी
लूट खसूट मचा रखी है
सौंधी मिट्टी के गाँव
हैं जटायु से अपाहिज हम

इस रचना पर अपने विचार लिखें    दूसरों के विचार पढ़ें 

अंजुमनउपहारकाव्य चर्चाकाव्य संगमकिशोर कोनागौरव ग्राम गौरवग्रंथदोहेरचनाएँ भेजें
नई हवा पाठकनामा पुराने अंक संकलन हाइकु हास्य व्यंग्य क्षणिकाएँ दिशांतर समस्यापूर्ति

© सर्वाधिकार सुरक्षित
अनुभूति व्यक्तिगत अभिरुचि की अव्यवसायिक साहित्यिक पत्रिका है। इसमें प्रकाशित सभी रचनाओं के सर्वाधिकार संबंधित लेखकों अथवा प्रकाशकों के पास सुरक्षित हैं। लेखक अथवा प्रकाशक की लिखित स्वीकृति के बिना इनके किसी भी अंश के पुनर्प्रकाशन की अनुमति नहीं है। यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को परिवर्धित होती है

hit counter